रेलवे सुरक्षा बल महानिदेशक अरुण कुमार यूसीआई के उपाध्यक्ष बने

35
भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी और वर्तमान में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के महानिदेशक अरुण कुमार

भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी और वर्तमान में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के महानिदेशक अरुण कुमार को रेलवे सुरक्षा से जुड़े अंतर्राष्ट्रीय संगठन यूसीआई का उपाध्यक्ष बनाया गया है. दो साल तक इस पद पर रहने के बाद भारत के रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक को अगले दो साल के लिए यूसीआई के अध्यक्ष का पदभार भी सौंपा जाएगा. यूसीआई (यूनियन इंटरनेशनल देस शिमन्स-Union Internationale Des Chemins) फ़्रांसिसी भाषा का शब्द है जिसका अर्थ अंग्रेजी में इंटरनेशनल यूनियन ऑफ रेलवे है. यूसीआई का मुख्यालय फ्रांस की राजधानी पेरिस में है.

एक विज्ञप्ति के मुताबिक़ यूआईसी के महानिदेशक फ्रैंकोइस डेवने ने भारतीय रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव को सूचित किया है कि 96वीं यूआईसी महासभा ने आईपीएस अधिकारी अरुण कुमार के बारे में ये निर्णय लिया है. इसके मुताबिक़ अरुण कुमार को जुलाई 2020 से लेकर जुलाई 2022 तक के लिए सुरक्षा मंच यूसीआई के उपाध्यक्ष के रूप में मनोनीत किया गया है. उसके बाद, जो भी आरपीएफ (railway protection force) के महानिदेशक होंगे उन्हें जुलाई 2022 से लेकर जुलाई 2024 तक सुरक्षा मंच के अध्यक्ष का पदभार दिया जायेगा.

भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी और वर्तमान में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के महानिदेशक अरुण कुमार

यूआईसी का काम :

यूआईसी को व्यक्तियों, संपत्ति और प्रतिष्ठानों की सुरक्षा से संबंधित मामलों में रेलवे की तरफ से विश्लेषण करने और नीतिगत सोच विकसित करने और निर्माण करने का अधिकार प्राप्त है. यह सुरक्षा मंच, यूआईसी सदस्यों की सुरक्षा एजेंसियों के बीच सूचनाओं और विचारों के आदान-प्रदान को बढ़ावा देता है और सदस्यों या बाहरी गतिविधियों की आवश्यकता के अनुसार रेलवे सुरक्षा के क्षेत्र में साझा हितों वाली परियोजनाओं और गतिविधियों को प्रस्तावित करता है.

यूआईसी सुरक्षा मंच की तरफ से, वर्तमान वैश्विक महामारी के दौरान कोविड-19 के लिए गठित टास्क फोर्स, विचारों का आदान-प्रदान करने, सावधानियों को अपनाने, पूर्वावस्था की प्राप्ति के प्रयासों और अनुभवों को साझा करने की दिशा में उपयोगी साबित हुआ है.

कौन हैं अरुण कुमार:

बिहार के दरभंगा के मूल निवासी भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी अरुण कुमार उत्तर प्रदेश कैडर के 1985 बैच के हैं. टेक्नोलाजी इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर (एमटेक) अरुण कुमार उत्तर प्रदेश पुलिस में कई अहम ओहदों पर सेवा करने के अलावा भारत की प्रमुख जांच एजेंसी केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) में भी तैनात रहे हैं. 59 वर्षीय अरुण कुमार को 30 सितम्बर 2018 रेलवे सुरक्षा बल का मुखिया बनाया गया था. उन्हें 2017 में पुलिस आंतरिक सुरक्षा सेवा पदक से सम्मानित किया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here