यह सैनिक जोड़ा इस बार गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेकर खूबसूरत इतिहास रचेगा

30
मद्रास रेजीमेंट के मेजर जेरी ब्लेज़ और उनकी पत्नी मिलिटरी पुलिस में कैप्टन सुप्रीता सी टी गणतंत्र दिवस परेड 2024 में हिस्सा लेंगे

भारतीय सेना के इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब गणतंत्र दिवस की परेड ( republic day parade ) में कोई  एक दम्पति हिस्सा लेगा. यह जोड़ा है – इंडियन आर्मी के मेजर जेरी ब्लेज़ और कैप्टन सुप्रीता सी टी. पति – पत्नी  26 जनवरी को दिल्ली में कर्तव्य पथ पर 75वें गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा  लेंगे.

मेजर ब्लेज़ और कैप्टन सुप्रीता दो अलग-अलग मार्चिंग टुकड़ियों का हिस्सा होंगे . मेजर ब्लेज़ सामान्य मार्चिंग टुकड़ी में और जबकि  कैप्टन सुप्रीता सी टी  ट्राइसर्विस महिला दस्ते में शामिल होंगी.

यहां नई  दिल्ली में परेड रिहर्सल के दौरान रिपोर्टरों से  बात करते हुए  मेजर ब्लेज़ ने कहा कि यह गणतंत्र दिवस परेड के इतिहास में पहली बार हो रहा है.

इन दोनों के बीच ऐसा कुछ योजनाबद्ध तरीके से नहीं हुआ था . इस दिलचस्प घटना के पीछे केवल इत्तेफाक है . कैप्टन सुप्रीता ने कहा, ”  यह एक संयोग है. शुरुआत में, मैंने  परेड में अपना चयन के लिए  परीक्षण दिया और पास हो गई। फिर मेरे पति भी अपनी रेजिमेंट से चुन लिए गए. ”

जेरी ब्लेज़  ( major jerry blaize) सुप्रीता सी टी (captain supreetha c t ) कॉलेज के दौरान राष्ट्रीय कैडेट कोर ( ncc – एनसीसी) में थे. दिलचस्प यह भी है कि सुप्रीता ने एनसीसी दस्ते  के हिस्से के तौर पर 2016 में भी  गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लिया था और उससे पहले  जेरी  ब्लेज़ ने 2014 में परेड में हिस्सा लिया था.

मेजर ब्लेज़ ने कहा, “यह मेरे लिए अपनी रेजिमेंट का नेतृत्व करने और अपनी रेजिमेंट को गौरवान्वित करने के लिए प्रेरक कारकों में से एक था. ”

कैप्टन सुप्रीता कर्नाटक के मैसूर से हैं और उन्होंने शहर के जेएसएस लॉ कॉलेज से कानून में स्नातक किया है. मेजर ब्लेज़ वेलिंग्टन ( तमिलनाडु ) से ताल्लुक रखते हैं. उन्होंने जैन विश्वविद्यालय, बेंगलुरु से स्नातक की उपाधि प्राप्त की. दोनों  फिलहाल दिल्ली में रहते हैं. दोनों ही  अलग-अलग रेजिमेंट से हैं और प्रैक्टिस  में अलग-अलग हिस्सा लेते हैं.

कैप्टन सुप्रीता ने बताया , “मेरे पति मद्रास रेजिमेंट ( madras regiment ) से हैं और मैं सैन्य पुलिस ( military police ) दल का हिस्सा हूं.” दोनों अलग अलग जगह पर तैनात हैं .

कैप्टन सुप्रीता ने कहा , “हम अलग-अलग स्थानों पर तैनात हैं और यह एक ऐसा अवसर है कि हम दोनों को नई दिल्ली में इन दो महीनों के लिए एक साथ समय बिताने का मौका मिल रहा है.  यह हम दोनों के लिए बहुत गर्व का क्षण है कि हम अपने-अपने दल के साथ यहां हैं. उन्होंने बताया  कि उनके परिवार खुश हैं और वे परेड में शामिल होने आएंगे.