कोच्चि नौसैनिक अड्डे पर अलंकरण समारोह में नौसैनिकों को मेडल

343
कोच्चि नौसैनिक अड्डे पर अलंकरण समारोह के दौरान रस्मी परेड का निरीक्षण वाइस एडमिरल ए. के. चावला.

भारतीय नौसेना की दक्षिणी कमान के कोच्चि स्थित नौसैनिक अड्डे पर नौसेना अलंकरण समारोह में बहादुर नौसेना कर्मियों को वीरता एवं गैर वीरता पदक से सम्मानित किया गया. ये पदक इसी साल (गणतंत्र दिवस-2020 पर) घोषित किए गए थे. इनके अलावा उन कर्मियों को भी सम्मानित किया गया जिन्होंने नेतृत्व क्षमता का परिचय दिया, पेशेवर उपलब्धियां हासिल कीं, उच्चस्तरीय उल्लेखनीय सेवा की और सेवा में ख़ास योगदान दिया. भारत के राष्ट्रपति की तरफ से ये पदक नौसेना की दक्षिणी कमांड के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ वाइस एडमिरल ए के चावला ने प्रदान किये.

इस अलंकरण समारोह में चार नौसेना मेडल (वीरता), दो नौसेना मेडल (ड्यूटी के प्रति समर्पण), चार विशिष्ट सेवा मेडल (लंबे समय तक वीरता का परिचय देना) समेत कुल दस पदक प्रदान किए गए. इस अवसर पर कमांडर इन चीफ ने एक जीवन रक्षा पदक-मेडल (साहसिक कार्य एवं आत्म बलिदान के लिए) के साथ साथ पिछले एक वर्ष में असाधारण सेवा के लिए एशोर यूनिट (प्रतिष्ठान) की श्रेणी में आईएनएस चिल्का को और एफ्लोट यूनिट(जहाज़) की श्रेणी में आईएनएस सुजाता को वर्ष 2020-21 के लिए यूनिट साइटेशन दिए जाने का ऐलान किया.

वाइस एडमिरल ए. के. चावला ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि यह एक विशेष महत्व का मौका है जिसमें अपने साथी नौसेना कर्मियों की बहादुरी के कारनामों और ड्यूटी के प्रति समर्पण को भारतीय नौसेना औपचारिक मान्यता प्रदान करती है. उन्होंने पदक पाने वाले नौसैनिकों को बधाई दी. एडमिरल ए. के. चावला ने इस बात को रेखांकित किया कि नौसेना के सभी पुरुष और महिला कर्मचारी हर समय आगे बढ़कर उसी तरह की निस्वार्थ सेवा देते हैं जैसी भारतीय नौसेना हिंद महासागर क्षेत्र के लिए हर समय देती है. उन्होंने इसके लिए हाल में “आईएनएस निरीक्षक” द्वारा मॉरिशस को प्रदान की गई सहायता का उदाहरण दिया और कहा कि यह प्रधानमंत्री की “सागर” (क्षेत्र के सभी देशों के लिए सुरक्षा और तरक्की-सिक्योरिटी एंड ग्रोथ फॉर आल इन दि रीजन) परिकल्पना पर आधारित था.

अलंकरणों का विस्तृत विवरण :

नौसेना मेडल (वीरता) – कमांडर शैलेंद्र सिंह, कमांडर विक्रांत सिंह, लेफ्टिनेंट कमांडर रवीन्द्र सिंह चौधरी, लीडिंग सीमैन सुशील कुमार, नौसेना मैडल (ड्यूटी के प्रति समर्पण), कमोडोर एमपी अनिल कुमार, कमोडोर गुरचरण सिंह.

विशिष्ट सेवा मेडल – रियर एडमिरल तरुण सोबती, कमोडोर अजीत वी कुमार, कमोडोर आर रामकृष्णन अय्यर, कैप्टन के निर्मल रघु.

जीवन रक्षा पदक – चीफ पैटी ऑफिसर मुकेश कुमार को प्रदान किया गया.

कोच्चि नौसैनिक अड्डे पर अलंकरण समारोह के दौरान रस्मी परेड में 50 कर्मियों ने सलामी गार्ड में हिस्सा लिया जिसका निरीक्षण वाइस एडमिरल ए. के. चावला ने किया. इससे पहले उन्होंने दक्षिण कमान के विभिन्न जहाज़ों और प्रतिष्ठानों के नौसेना कर्मियों की पलटनों की परेड का निरीक्षण किया. इस परेड का नेतृत्व कमांडर अभिषेक तोमर ने किया. अलंकरण समारोह में भारतीय नौसेना के वरिष्ठ अधिकारी एवं गण्यमान्य अतिथि उपस्थित थे. इनमें सामाजिक दूरी बनाए रखने के सभी नियमों और कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन किया गया.