भारतीय सेना में कोरोना संक्रमण नहीं, कोविड योद्धाओं के सम्मान में फ्लाई पास्ट-पुष्प वर्षा

56
फ्लाई पास्ट की प्रतीकात्मक फोटो.

भारत समेत दुनिया भर के ज़्यादातर बड़े देशों में कोहराम मचा देने वाले नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण से भारतीय सेनाओं ने खुद को पूरी तरह सुरक्षित रखा हुआ है. भारतीय सेनाओं में कोविड19 संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है. ये दावा भारत के चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने शुक्रवार को दिल्ली में उस प्रेस कांफ्रेंस के दौरान किया जिसमें तीनों सेनाओं के प्रमुख मौजूद थे. कोविद योद्धाओं के सम्मान और संकट की इस घड़ी में एकजुटता प्रकट करने के लिए रविवार को देशभर में होने वाली सेना की गतिविधियों की जानकारी देने के लिए ये प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की गई थी.

सीडीएस जनरल रावत ने एक सवाल के जवाब में कहा कि कोविड संकट से निपटने में भारत की सशस्त्र सेनायें दो सिद्धांतों के मुताबिक़ काम काम कर रही हैं : बल का बचाव और नागरिक प्रशासन की मदद. उन्होंने कहा कि सेनायें पूरी तरह से तैयार हैं और एक भी सैनिक, नौसैनिक या वायुसैनिक इस संक्रमण की चपेट में नहीं है.

सीडीएस जनरल बिपिन रावत .

जनरल रावत ने बताया कि 3 मई यानि आगामी रविवार को, कोविड संक्रमण से अग्रिम मोर्चे की जंग लड़ रहे योद्धा स्वास्थ्यकर्मियों, पुलिस कर्मियों के प्रति आभार प्रकट करने और इस संकट के समय में देश की एकजुटता के प्रति सम्मान दिखाने के लिए भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमान फ्लाई पास्ट करेंगे. ये विमान कश्मीर में श्रीनगर से केरल के तिरुवनंतपुरम और असम के डिब्रूगढ़ से गुजरात के कच्छ तक उड़ान भरकर भारतीय वायु सेना की तरफ से आभार प्रकट करेंगे. सेना के हेलीकाप्टर अस्पतालों पर पुष्पवर्षा करेंगे. वहीं सेना के बैंड देशभर में कोविड वारियर्स को समर्पित संगीत बजायेंगे. समुद्र में नौसेना और भारतीय तटरक्षक के जहाज़ और नौकाएं इन योद्धाओं के सम्मान में विशेष फोरमेशन बनायेंगे.

सीडीएस जनरल बिपिन रावत के साथ प्रेस कांफ्रेंस थल सेनाध्यक्ष जनरल मनोज नरवणे, भारतीय वायु सेना के प्रमुख मार्शल आरकेएस भदौरिया और नौसेना प्रमुख एडमिरल करमवीर सिंह मौजूद थे. कोविड संकट से सीधे जंग लड़ने वाले पुलिसकर्मियों के सम्मान में भारतीय सेना के अधिकारी रविवार को दिल्ली स्थित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर पुष्पांजलि र्पित करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here