DAC ने रक्षा बलों के लिए 5,500 करोड़ के उपकरण खरीद को दी मंजूरी

435
Defence-Acquisition-Council
रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण (फाइल फोटो)

नई दिल्ली. रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में रक्षा खरीद परिषद (Defence Acquisition Council-DAC) की गुरुवार को यहां बैठक हुई और उसमें रक्षा बलों के लिए 5,500 करोड़ रुपये से अधिक के उपकरण खरीद प्रस्तावों को मंजूरी दी गई. रक्षा खरीद के क्षेत्र में स्वदेशीकरण और आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को हासिल करने के लिए, डीएसी ने ‘Buy (Indian) IDDM’ वर्ग के तहत भारतीय वायु सेना के लिए 12 हाई पॉवर रडार की खरीद को अनुमति दी. ये रडार पैराबोलिक ट्रेजेक्ट्री के बाद हाई स्पीड टारगेट का पता लगाने एवं नजर रखने की क्षमता के साथ लंबी दूरी, मध्यम एवं उच्च उन्नतांश रडार कवर उपलब्ध कराएंगे.

प्रौद्योगिकी रूप से उत्कृष्ट इन रडारों में बिना एंटीना के मैकेनिकल रोटेशन के 360 डिग्री स्कैन करने की क्षमता होगी तथा न्यूनतम रखरखाव आवश्यकता के साथ 24 घंटे इनका परिचालन हो सकेगा. इन उपकरणों की खरीद देश में वायु रक्षा नेटवर्क की समग्र दक्षता को बढ़ाएगी.

डीएसी ने भारतीय तटरक्षक एवं भारतीय सेना के लिए इंडियन शिपयार्ड से एअर कुशन वेहिकल्स (एसीवी) की खरीद को भी मंजूरी दी.

एक परिवार में भारत की तीनों सेना के रंग वाली ये है मजेदार तस्वीर