मुठभेड़ में घायल हुए पुलिस अधिकारी को बचाने वाला यह है हयूस्टन का हीरो

72
जॉन लैली

अमेरिकन प्रांत टेक्सास की राजधानी ह्यूस्टन Houston में मुठभेड़ के दौरान बदमाश की गोली से घायल होने से गिरे एक  पुलिस अधिकारी को गोलीबारी के बीच सुरक्षित निकालने वाले एक नागरिक जॉन लैली का कारनामा एक वीडियो में कैद होने के बाद खूब तारीफ बटोर रहा है . हालांकि अधिकारी का अभी भी अस्पताल में ईलाज चल रहा है लेकिन उसकी जान बच गई .  लेकिन यह  तब ही मुमकिन हुआ जब जॉन लैली ने अपनी जान की परवाह न करते हुए एक नागरिक व इंसानियत का फर्ज़ पूरा किया . घायल अधिकारी का नाम जे . गिब्सन है .

शनिवार को हुई गोलीबारी की इस घटना का ब्यौरा देते हुए ह्यूस्टन पुलिस प्रमुख ट्रॉय फिनर ( Houston Police Chief Troy Finner) ने  जॉन लैली को हीरो बताया. इस मुठभेड़ में पुलिस का हमलावर भी मारा गया .

दिलचस्प है कि जॉन लैली ने यह भी  स्वीकार किया कि कानून के साथ पहले खुद  उसका भी कई बार टकराव हो चुका है.  उसका आपराधिक रिकॉर्ड है . हालांकि पुलिस प्रमुख फिनर  ने कहा , ”  जॉन लैली सुधरा हुआ  इंसान है.  वह ऐसा  व्यक्ति है जिसका हम उपयोग कर सकते हैं.  उसने कदम बढ़ाया है . ”

जॉन लैली ने घटना के बारे में बताया कि जब साउथवेस्ट फ्रीवे पर गोलीबारी हुई तो वह काम पर जा रहा था . उसने कुछ  देर के लिए वीडियो रिकॉर्ड किया ताकि कहीं बाद में उसकी बात पर लोगों को यकीं न हो.  लेकिन लैली के रिकार्डेड वीडियो से घटनाक्रम की भयावता का पता भी लगा .

जॉन लैली ने कहा , “मैंने देखा कि एक पुलिसकर्मी को गोली मार दी गई है .  पहले मुझे  भी उसी टांग  में गोली मारी गई थी और इसलिए  मुझे पता था  कि वह क्या कर पा रहा था.  लैली को घायल पुलिसकर्मी की मदद करने की प्रेरणा एक  विचार से भी आई .  ” “मैंने अभी देखा कि किसी को मदद की ज़रूरत है और ऐसे में मैं वहाँ से भाग गया तो …” जॉन ने फिर अपनी सुरक्षा के जोखिम को नज़रन्दाज़ करने और घायल अधिकारी को खतरे से दूर रखने के बारे में दोबारा नहीं सोचा.

जॉन लैली ने कहा कि मुझे पता ही नहीं था कि अभी भी शूटिंग चल रही है, मेरे दिमाग में बस यही चल रहा था, ‘यार, मुझे इस आदमी को जल्दी से पकड़ना होगा.” जॉन लैली ने खुद से कहा कि वह अच्छा करने का अवसर हाथ से नहीं जाने देंगे.

जॉन ने  कहा, “यह किसी का जीवन है, इसलिए दिन के अंत में, मुझे लगता है कि हम सभी को लोगों की मदद करने के लिए कुछ भी और सब कुछ करना चाहिए. 11/11 देवदूत की संख्या है, लेकिन यह नई शुरुआत का भी प्रतिनिधित्व करती है.”

जॉन लैली ने बताया कि वह घायल हुए पुलिस अधिकारी के संपर्क में तो नहीं है हालांकि, फिनर ने उन्हें  इस काम के लिए धन्यवाद देने के इरादे से  फोन ज़रूर किया था.

हयूस्टन पुलिस के अधिकारियों ने बताया  कि गिब्सन के पैर की सर्जरी हुई है और यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हें अस्पताल से कब छुट्टी मिलेगी. ट्राय फिनर ने कहा कि घायल अधिकारी  वह 29 साल के हैं और पांच साल से एचपीडी के साथ हैं. उनका 20 महीने का एक  बच्चा भी है.

मामला क्या था


घटना शनिवार सुबह करीब 10 बजे शुरू हुई जब एक पुलिस अधिकारी की नज़र  एक ऐसे वाहन पर पड़ी  जिसे शुक्रवार को कारजैकिंग में उड़ा ले  जाया गया था.पुलिस चीफ ट्राय फिनर ने बताया  कि अधिकारी ने , सायरन बजाय बिना या आपातकालीन उपकरण का उपयोग किए बिना,  चोरी हुए वाहन का पीछा किया, लेकिन जब उसे चला रहे शख्स ने अधिकारी को देखा, तो  उसने स्पीड तेज कर दी. इस पर अधिकारी ने उसका  पीछा करना शुरू कर दिया.

फिनर ने बताया कि संदिग्ध ने साउथवेस्ट फ्रीवे पर उत्तर दिशा  की तरफ कार   चलाई और जैसे ही वह 610 लूप के पास पहुंचा, वह कई गाड़ियों से टकरा गया.  फिनर ने बताया कि , दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद कार से निकले संदिग्ध ने दो लोगों की कार छीनने की कोशिश की.   जैसे ही उसने  अधिकारियों पर गोली चलाई, कम से कम तीन ने जवाबी फायरिंग की, जिससे संदिग्ध पर कई बार फायर किये गए .